अपने पार्टनर को कैसे संतुष्ट किया जाए..

हर कपल बेड में अपने पार्टनर को पूरी तरह संतुष्ट करना चाहता है इसलिए वह अक्सर यह जानना चाहता है कि अपने पार्टनर को कैसे संतुष्ट किया जाए? क्या आप जानतें हैं पार्टनर को संतुष्ट करने के लिए क्या करना चाहिए? बिस्तर पर पार्टनर को संतुष्ट करना कोई आसान खेल नहीं है अपने पार्टनर को कैसे संतुष्ट किया जाए के लिए आपको कई विशेष गुण सीखने होंगें।

से,क्स करने के दौरान पुरुष और महिलाएं अगर संतुष्ट नहीं होते हैं तो इससे दोनों के रिश्ते में कमजोरी आ सकती है। इतना ही नहीं पार्टनर के असंतुष्ट होने पर रिश्ता टूट भी सकता है। एक बेहतर लव लाइफ में भी बेहतर से,क्स लाइफ की जरूरी शर्त होती है। तो चलिए जानतें हैं अपने पार्टनर को कैसे संतुष्ट किया जाए.

हम आपको बताते है वह तरीके जिससे आप अपने पार्टनर को से,क्स में कर सकते है पूरा संतुष्ट। यदि आप भी अपने पार्टनर को संतुष्टि के चरम पर पहुंचाने में कठिनाई का सामना कर रहे हैं, तो यह महत्वपूर्ण है कि आप से,क्स करने की बुनियादी बातों को सही करें और कुछ अच्छे स्टेप्स सीखें.

कभी भी से,क्स करने की जल्दी न करें। अपने साथी को से,क्स के लिए तैयार करें। उनके शरीर को अलग-अलग जगह टच करें और प्यार के साथ किस करें। अपने पार्टनर को कैसे संतुष्ट किया जाए  में आप जितनी धीमी प्रक्रिया से से,क्स की शुरुआत करेंगे, आपकी पार्टनर उतना ही बेहतर महसूस करेंगी।

से,क्स करने से पहले अपने साथी को कंफर्टेबल करना बहुत जरूरी है। यदि वह स्ट्रेस में है, तो वह उन खूबसरत पलों का आनंद नहीं ले पाएगी जो उसे संतुष्ट कर सकते थे। अपने पार्टनर को कैसे संतुष्ट किया जाए  में माहौल को हल्का बनाने के लिए आप अपने पार्टनर के साथ रोमांटिक बातें कर सकते हैं। कभी-कभी शरारती और सेक्सी बातें आपको या आपके पार्टनर को से,क्स के लिए अधिक उत्तेजित कर सकती हैं।

अपने पार्टनर को कैसे संतुष्ट किया जाए  में फोरप्ले से,क्स से ज्यादा महत्वपूर्ण है। फोरप्ले अधिक समय तक करें ताकि आपका पार्टनर उत्तेजित हो। फोरप्ले की शैली हमेशा बदलती रहनी चाहिए। इससे आपका साथी से,क्स लाइफ में अधिक सक्रिय होगा। जिससे आप उसे आसानी से संतुष्ट कर सकते हैं।

से,क्स में चरम आनंद प्राप्त करने के लिए से,क्स पोजीशन बहुत महत्वपूर्ण हैं। हमेशा पोजीशन बदलते रहने से से,क्स अधिक रोमांचक हो जाता है। आपका साथी भी नए तरीके से से,क्स करना पसंद कर सकता है। एक बात का ध्यान रखें, कभी भी अपने पार्टनर के साथ से,क्स पोजीशन को लेकर जबरदस्ती न करें।

बहुत से पुरुष शीघ्रपतन से पीड़ित होते हैं। उनका से,क्स शुरू करते ही स्खलन हो जाता है लेकिन उनकी साथी संतुष्ट नहीं होती है। ऐसी स्थिति में, वे स्टॉप-स्टार्ट तकनीक का उपयोग कर सकते हैं। जैसे ही आपको लगे कि आप स्खलन करने वाले हैं, तो कुछ देर रुकें। कुछ समय बाद फिर से से,क्स करना शुरू करें। अन्यथा आप अपने साथी को संतुष्ट नहीं कर पाएंगे।

अपने पार्टनर को कैसे संतुष्ट किया जाए  में सही प्रेशर लगाना भी जरुरी होता है, से,क्स करते समय सबसे आसान टिप जो आपको हमेशा ध्यान में रखनी चाहिए, वह यह है कि आपको संभोग के दौरान एक लय बनाए रखना होगा और आपको पता होना चाहिए कि पार्टनर को संतुष्ट करने के लिए कितना प्रेशर लगाना जरुरी है। यदि आपको इसके बारे में अधिक जानकारी नहीं है तो आप अपने पार्टनर से इस बारे में पूछ सकते हैं या इस बारे में खुलकर बात कर सकते हैं ताकि वह आपको सही बात बता सके कि आप जो कर रहे हैं वह सही ढंग से कर रहे हैं या नहीं।

महिलाओं में यौन उत्तेजना  होने पर कई तरह के शारीरिक लक्षण दिखाई देतें हैं जिन्हें देखकर आप समझ सकते हैं की लड़की शारीरिक संबंध बनाने के लिए तैयार हैं। लड़कों में से,क्स की इच्छा होने पर कई बदलाव आते हैं, ठीक उसी तरह से जैसे ही महिलाएं यौन इच्छा को महसूस करती हैं, उनके शरीर के गुप्त अंग में रक्त का प्रवाह तेजी से होने लगता है। हृदय की धड़कन बढ़ जाती है। नाक, आंख, स्तन, कुचाग्र लेबिया और योनि की भीतरी दीवारें सूज जाती हैं। योनि द्वार के अग्रभाग में स्थित बार्थोलिन ग्रंथियों से द्रव निकलने लगता हैं जो योनि मार्ग को चिकनाई देता हैं जो महिला कामोत्तेजना के शारीरिक लक्षण का प्रमाण होता है।

यौन उत्तेजना और से,क्स संबंध के दौरान, शारीरिक प्रतिक्रिया के कई स्तर होते हैं। शोधकर्ताओं ने महिलाओं और पुरुषों में कामोत्तेजना के इन प्रतिक्रियाओं के चार स्टेप्स की पहचान की है। इनमें उत्तेजना, उत्थान, महिला कामोत्तेजना और ऑर्गेज्म की चरम स्थिति और स्थिरता शामिल हैं। इस लेख में यह बताया जा रहा है कि महिला के शरीर में क्या होता है जब वह यौन उत्तेजना  में होती है।

जब एक महिला उत्तेजित हो जाती है, तो उसके जननांगों में स्थित रक्त वाहिकाएं महिला कामोत्तेजना की ऐसी स्थिति में फैल जाती हैं। इतना ही नहीं, उसकी योनि की दीवारों में रक्त का प्रवाह तेज हो जाता है। यह स्नेहन का मुख्य स्रोत है, जो योनि को बड़ा कर देता है ताकि पुरुष का अंग उसमे समां सके।

बाह्य जननांग या वल्वा (भगशेफ, योनि का ऊपरी भाग और लेबिया के भीतरी और बाहरी हिस्से) थोड़ा सूज जाते हैं क्योंकि इन हिस्सों में रक्त की आपूर्ति तेज हो जाती है। इसके अलावा, योनि का ऊपरी हिस्सा शरीर के अंदर विस्तारित होता है। महिला कामोत्तेजना के शारीरिक लक्षण की इस अवस्था में महिला की नब्ज और सांस तेज हो जाती है और रक्तचाप बढ़ जाता है। यौन उत्तेजना के कारण महिला की छाती गर्म हो सकती है। ऐसा उसके रक्त वाहिकाओं के चौडड़ा होने के कारण होता है।

इस स्थिति में, योनि के निचले भाग में रक्त का प्रवाह अपने चरम पर पहुंच जाता है। इसके कारण योनि का निचला हिस्सा सूजन के साथ मोटा हो जाता है। इसे इंट्रोइटस कहा जाता है। कभी-कभी इसे एक ऑर्गैज़्मिक प्लेटफॉर्म के रूप में भी जाना जाता है जो महिला कामोत्तेजना और संभोग के दौरान लयबद्ध संकुचन से गुजरता है। महिला कामोत्तेजना के शारीरिक लक्षण की इस स्थिति में एक महिला के स्तनों का आकार 25 प्रतिशत तक बढ़ सकता है। महिला के निप्पल के पास के भाग में रक्त का प्रवाह भी बढ़ जाता है, जिससे वह कम उभरी हुई दिखाई देती है।

जैसे ही महिला कामोत्तेजना के चरमोत्कर्ष पर पहुंचती है, उसकी क्लाइटोरिस जघन की हड्डी के खिलाफ वापस खींचती है और गायब हो जाती है। कामोन्माद के चरमोत्कर्ष पर जाने के लिए, इस स्तर पर पर्याप्त यौन उत्तेजना होना आवश्यक है। कामोत्तेजना का चरम सुख पहले स्टेप में उठने वाले यौन तनाव की तीव्र और सुखद अनुभूति है। जिसे जननांग की मांसपेशियों के संकुचन (0.8 सेकंड के अंतर पर) की विशेषता है, जिसमें इंट्रोइटस भी शामिल है।

ज्यादातर महिलाएं उस समय का अनुभव नहीं करती हैं जो पुरुष कामोत्तेजना के चरम के बाद करते हैं। एक महिला को यौन उत्तेजना के चरम सुख का एक और मौका मिल सकता है अगर वह फिर से उत्तेजित हो जाए। हर बार से,क्स करने पर महिलाओं को ऑर्गेज्म का सुख नहीं मिल पाता है। ज्यादातर महिलाओं के लिए, संभोग करने से पहले एक-दूसरे के साथ फोरप्ले की भूमिका महत्वपूर्ण है।

इसमें महिला या लड़की के उत्तेजक भाग यानी योनि को सहलाना और भगशेफ को उत्तेजित करना शामिल है। यह वह स्थिति है जब एक महिला का शरीर महिला कामोत्तेजना के बाद धीरे-धीरे अपनी सामान्य स्थिति में लौट आता है। गुप्त अंग की सूजन कम हो जाती है। सांस और हृदय की गति भी हल्की हो जाती है।

तो ये थे कुछ टिप्स जो अपने पार्टनर को कैसे संतुष्ट किया जाए में आपके बहुत ही काम आयेगें आपको हमारा ये लेख पार्टनर को कैसे संतुष्ट किया जाए कैसा लगा हमें कमेंट्स कर जरूर बताएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *