प्रेग्‍नेंट होने के लिए दिन में कितनी बार से_क्स करना है जरूरी..

गर्भधारण करने के लिए कब और कितनी बार से_क्स करना जरूरी है, इस बारे में जानकारी होना आवश्‍यक है। इससे प्रेग्‍नेंट होने की संभावना बढ़ जाती है। अगर आप भी गर्भधारण की सोच रही हैं और या कई बार कोशिश करने के बाद भी मां नहीं बन पा रही हैं तो आपको से_क्स से जुड़ी कुछ बातों पर गौर करना चाहिए।इसमें दिन में कितनी बार से_क्स करना चाहिए या जल्‍दी गर्भधारण के लिए रोज संभोग करना सही है या नहीं, जैसी कई महत्‍वपूर्ण बातें शामिल हैं। कई कपल्‍स को लगता है कि रोज से_क्स करने से गर्भधारण की संभावना बढ़ जाती है लेकिन हर कपल के मामले में ऐसा नहीं है। कई सवालों के जवाब – गर्भधारण करने को लेकर कई तरह के सवाल मन में आते हैं जैसे कि क्‍या रोज से_क्स करना जरूरी है.

दिन में कितनी बार पार्टनर के साथ संबंध बनाने चाहिए, क्‍या एक दिन छोड़कर संभोग करने से गर्भधारण करने में आसानी होती है या रोज से_क्स करना ज्‍यादा हो जाता है या कम से_क्स से भी प्रेग्‍नेंट हुआ जा सकता है? मां बनने के लिए कोशिश कर रही महिलाओं और कपल्‍स को इस विषय से जुड़े हर सवाल का जवाब हम आपको यहां देने जा रहे हैं। ​क्‍या दिन में कई बार से_क्स करना जरूरी है – हो सकता है कि जिन मर्दों का स्‍पर्म काउंट कम होता है.

उन्‍हें अपनी महिला पार्टनर को प्रेग्‍नेंट करने के लिए दिन में कई बार से_क्स करना पड़े। 1994 में लगभग 600 पुरुषों पर हुए एक अध्‍ययन में पाया गया कि एक से चार घंटे के बीच में स्‍खलन करने वाले पुरुषों में दोबारा 24 घंटे के बाद इजैकुलेट करने से शुक्राणुओं की गतिशीलता में इजाफा हुआ। शोधकर्ताओं ने कहा कि रोज से_क्स करने या दिन में दो बार संबंध बनाने या ओवुलेशन के समय पर संबंध बनाने से इन पुरुषों के स्‍पर्म काउंट में बढ़ोत्तरी हो सकती है।

​एक अन्‍य रिसर्च – वर्ष 2016 में 73 पुरुषों पर हुई एक छोटी रिसर्च में पाया गया कि जो पुरुष एक घंटे में दो बार इजैकुलेशन करते हैं उनमें नॉर्मल शुक्राणुओं का उत्‍पादन होता है और दूसरी बार इजैकुलेशन में स्‍पर्म की गतिशीलता भी बेहतर होती है। हालांकि, ये परिणाम केवल उन पुरुषों में पाए गए जिनका स्‍पर्म काउंट कम था। इसलिए अगर आपका स्‍पर्म काउंड नॉर्मल है तो आपको अपनी पार्टनर को गर्भधारण करवाने के लिए दिन में ज्‍यादा बार से_क्स करने की जरूरत नहीं होनी चाहिए। ​

क्‍या रोज संबंध बनाने से फायदा होता है? – ओवुलेशन के दौरान से_क्स करने से गर्भ धारण की संभावना 25 फीसदी बढ़ जाती है। इसका मतलब है कि महीने के बाकी दिनों के मुकाबले ओवुलेशन के दौरान मां बनने की संभावना ज्‍यादा होती है। इसका मतलब है कि यदि आपके या आपके साथी रोज सेक्स करने का मन नहीं है तो भी गर्भधारण की उतनी ही संभावना है जितनी की एक दिन छोड़कर एक दिन से_क्स करने से होती है।

​ओवुलेशन में संबंध बनाना – वहीं अगर आप ओवुलेशन के दौरान एक बार से ज्‍यादा बार संबंध बनाते हैं तो आप पहले से ही उन जोड़ों की तुलना में बेहतर हैं जो ओव्यूलेशन होने पर बिना किसी संबंध के केवल सप्ताह में एक बार सेक्स करते हैं। जो कपल्‍स हफ्ते में सिर्फ एक बार किसी भी समय में संबंध बनाते हैं, उनमें उस महीने में गर्भधारण करने की संभावना केवल 10 प्रतिशत होती है।​कितनी बार से_क्स करना है जरूरी? – एक्सपर्ट्स की मानें तो प्रेग्‍नेंट होने के लिए हर हफ्ते में कम से कम दो से तीन बार से_क्स करना चाहिए। जिन पुरुषों का स्‍पर्म काउंट नॉर्मल होता है, उनकी पार्टनर हर दिन या एक दिन छोड़कर एक दिन से_क्स करने पर भी जल्‍दी प्रेग्‍नेंट हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *