Sushant Singh Rajput: ऐसे ही नहीं मरे सुशांत, रॉ के पूर्व अफसर ने किया सनसनीखेज दावा, मौत में शामिल है पूरा अंडरवर्ल्ड

0
1758

लगभग ढाई दर्जन लोगों से पूछताछ करने के बाद अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की कथित आत्महत्या मामले में पुलिस भले ही किसी नतीजे पर न पहुंची हो। लेकिन, अभी भी कुछ लोग अपने अपने हिसाब से इस घटना की तह तक जाने की कोशिशों में लगे हैं। एन के सूद नाम के शख्स के एक वीडियो को लेकर शनिवार सुबह से ही मुंबई पुलिस परेशान है। मामले की जांच कर रहे लोग भी इस वीडियो की पड़ताल में जुट गए हैं। सबसे गंभीर बात इस वीडियो में फिल्म निर्माता संदीप सिंह पर लगे आरोप हैं।

बॉलवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत दिन-ब-दिन एक नया मोड़ ले रही है। आए दिन किसी न किसी से सुशांत केस पर पूछताछ हो रही हैं। अबतक लगभग ढाई दर्जन लोगों से पूछताछ करने के बाद भी अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत केस वहीं का वही है। वहीं सुशांत के फैंस और कई करीबी उनकी मौत को सुसाइड मानने के लिए तैयार ही नहीं हैं। सभी को पूरा यकीन है कि उनका मर्डर हुआ है। वहीं अब रॉ के पूर्व अफसर एन के सूद का एक वीडियो सोशल मीडिया पर जबरदस्त वायरल हो रहा है। इस वीडियो में सूद ने जो दावे किए हैं वो आपको हिलाकर रख देंगे।

रॉ के पूर्व अफसर ने किया सनसनीखेज दावा

रॉ के पूर्व अफसर एन के सूद ने सुशांत को लेकर एक वीडियो शेयर किया है। बता दें कि खुद को भारत की खुफिया एजेंसी रॉ का पूर्व कर्मचारी बताने वाले एन के सूद ने यूट्यूब पर एक वीडियो शेयर किया है। करीब 11 मिनट के इस वीडियो में उन्होंने एक नई ही कहानी को सामने रख दिया। सुशांत केस की कई कड़ियों को जोड़ते हुए एनके सूद ने कहा कि उन्होंने आत्महत्या नहीं की, बल्कि उनकी हत्या हुई है और इसमें दाऊद इब्राहिम का हाथ है।

खुद को भारत की खुफिया एजेंसी रॉ का पूर्व कर्मचारी बताने वाले एन के सूद ने यूट्यूब पर एक वीडियो अपलोड करके इस घटना के बारे में एक नई थ्योरी बनाई है। उनका आरोप है कि सुशांत के साथ हुई इस घटना में अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का हाथ है। एनके सूद ने अब तक सामने आई सभी बातों को जोड़कर अपना एक समीकरण तैयार किया है जिसमें वह कहते हैं कि सुशांत ने आत्महत्या नहीं की, बल्कि उनकी हत्या हुई है।

वह इस वीडियो में आगे कहते हैं कि दाऊद इब्राहिम के गैंग के लोग सुशांत सिंह राजपूत को फोन पर धमकियां देते थे, जिसकी वजह से वह तनाव में थे। उन्होंने यह भी कहा कि सिर्फ गैंग के लोग ही नहीं बल्कि सुशांत के कुछ करीबी लोग भी इसमें शामिल थे।

अपने वीडियो में सूद रहे हैं कि दाऊद इब्राहिम के लोग सुशांत को फोन पर धमकियां दे रहे थे जिसकी वजह से सुशांत के अंदर तनाव बढ़ता जा रहा था। इन लोगों से बचने के लिए ही सुशांत ने पिछले महीने में 50 सिम कार्ड भी बदले थे। एनके सूद का आरोप है कि सुशांत के हर कदम की जानकारी उनके करीबी फिल्म निर्माता दोस्त संदीप सिंह से होती हुई सलमान खान और करण जौहर के पास पहुंचती थी और उसके बाद वह सीधे अंडरवर्ल्ड तक जा पहुंचती थी।

एनके सूद नाम के इस शख्स ने अपने वीडियो में कहा है कि सुशांत की बिल्डिंग के सीसीटीवी कैमरे एक दिन पहले या तो बंद कर दिए गए थे या फिर खराब कर दिए गए थे। यह एक सोची समझी साजिश के तहत की गई हत्या है और यह किसी बाहरी नहीं बल्कि उनके किसी करीबी का ही काम है। हालांकि मुंबई पुलिस ने जांच में ऐसा कुछ नहीं पाया है। मुंबई पुलिस का कहना है कि सीसीटीवी कैमरे बंद नहीं थे।

सुशांत के आत्महत्या करने से पहले ही उनकी प्रेमिका रिया चक्रवर्ती उनका घर छोड़कर चली गई थीं। इस घटना को भी एनके सूद एक साजिश बताते हैं। वह कहते हैं कि महेश भट्ट और संदीप सिंह के कहने पर ही रिया ने सुशांत का साथ छोड़ दिया। सूद का ये भी दावा है कि इस घटना के बारे में महेश भट्ट को भी पूरी जानकारी थी। उन्होंने अपने वीडियो में पाकिस्तान के इवेंट मैनेजर रेहान सिद्दीकी और एक ब्रिटिश बिजनेसमैन अनिल मुसर्रत के साथ अंडरवर्ल्ड और हिंदी सिनेमा के कनेक्शन को जोड़ा है।

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत 14 जून को बांद्रा स्थित अपने घर में मृत पाए गए थे। उनके करीबियों ने पुलिस को बताया कि सुशांत ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार भी उनकी मौत दम घुटने के कारण हुई है। सुशांत के आंतरिक अंगों की भी फॉरेंसिक जांच की गई है जिसमें किसी प्रकार के जहर या रासायनिक पदार्थ का कोई अंश नहीं मिला है। इस मामले में पुलिस लगातार उनसे जुड़े लोगों से पूछताछ कर रही है।

बिहार कोर्ट ने दिया ये बड़ा फैसला

बिहार की एक कोर्ट ने बुधवार को उस याचिका खारिज कर दिया, जिसमें सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड के लिए सलमान खान, एकता कपूर, संजय लीला भंसाली और करण जौहर को जिम्मेदार बताया गया था. कोर्ट न्यायिक सीमाओं का हवाला देते हुए इस याचिका को खारिज किया. कोर्ट ने कहा कि यह मामला उनके क्षेत्राधिकार में नहीं आता है.


मुजफ्फपुर के चीफ जुडिसियल मिजस्ट्रेट (सीजेएम) मुकेश कुमार ने स्थानीय वकील मुकेश कुमार ओझा की याचिका खारिज करते हुए कहा कि यह मामला उनके कोर्ट के क्षेत्र अधिकार में नहीं आता है. सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड के तीन दिन बाद मुकेश कुमार ने याचिका दायर की थी और इसमें कंगना रनौत को गवाह बनाया था. सुशांत के सुसाइड के बाद कंगन रनौत ने वीडियो मैसेज के जरिए बॉलीवुड में नेपोटिज्म और फेवरेटिज्म के चलते सुशांत की मौत की वजह बताई थी.

मुकेश कुमार ओझा सीजेएम के फैसले से खुश नहीं है. उन्होंने उच्च अदालत में याचिका दायर करने के लिए कहा है. उन्होंने कहा,’मैं सीजेएम के फैसले को जिला न्यायालय में चुनौती दूंगा. सुशांत सिंह राजपूत की मौत से बिहार के लोग दुखी हैं. हम उन लोगों को सामने लेकर आएंगे, जिसकी वजह से एक नौजवान एक्टर ने ऐसा सख्त कदम उठाया.

मुकेश कुमार ओझा के अलावा कई और याचिकाकर्ताओं ने फिल्म इंडस्ट्री के कई बड़े सेलेब्स और राजनीति शख्सियतों के खिलाफ इस मामले में याचिका दायर की थी. फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े कई लोगों, विशेष तौर पर बिहार के रहने वाले कलाकारों ने सुशांत सिंह की मौत पर शोक व्यक्त किया और सीबीआई जांच की मांग की.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here